ऑस्ट्रेलिया ने लगाई भारत से लोगों के आने पर रोक, उल्लंघन करने पर हो सकती है पांच साल की जेल

0
4


मेलबर्न: कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए ऑस्ट्रेलिया ने भारत से आने वाले यात्रियों पर अस्थायी रोक लगा दी है. साथ ही अगर ऑस्ट्रेलियाई नागरिक भी इसका उल्लंघन करते हैं तो उन्हें पांच साल की कैद और 66 हजार ऑस्ट्रेलियाई डॉलर का भारी-भरकम जुर्माना हो सकता है.

अस्थायी रोक सोमवार से लागू हुई और यह उन यात्रियों पर लागू होगा जो ऑस्ट्रेलिया आने को इच्छुक हैं और 14 दिनों में भारत की यात्रा की है. सिडनी से प्रकाशित हेराल्ड अखबार की खबर के मुताबिक अनुमान है कि भारत में इस समय करीब नौ हजार ऑस्ट्रेलियाई हैं और उनमें से 600 को असुरक्षित के तौर पर वर्गीकृत किया गया है.

मकसद ऑस्ट्रेलिया में कोरोना वायरस के वायरस को रोकना है

ऑस्ट्रेलियाई मंत्रिमंडल की बैठक के बाद शुक्रवार को स्वास्थ्य मंत्रालय ने शुक्रवार को फैसले की घोषणा की. इसका मकसद ऑस्ट्रेलिया में कोरोना वायरस के वायरस को रोकना है जबकि भारत में कोविड-19 के मामलों में तेजी से वृद्धि हो रही है.

संक्रमितों की संख्या की वजह से यह कदम उठाया गया

स्वास्थ्य मंत्री ग्रेग हंट ने बताया कि यह फैसला भारत में संक्रमित और विदेश से ऑस्ट्रेलिया आए यात्रियों और पृथकवास में रखे गए के अनुपात के आधार पर है. ऑस्ट्रेलियन ब्रॉडकास्टिंग कॉरपोरेशन (एबीसी) ने उनके हवाले से बताया कि भारत से आने वाले यात्रियों में ‘अप्रबंधन करने योग्य’ संक्रमितों की संख्या की वजह से यह कदम उठाया गया.

खबर के मुताबिक यात्रा प्रतिबंध का उल्लंघन करने पर पांच साल कैद की सजा हो सकती या 66 हजार ऑस्ट्रेलियाई डॉलर का जुर्माना या दोनों हो सकता है.

यह भी पढ़ें.

दिल्ली AIIMS से लालू यादव को मिला डिस्चार्ज, बड़ी बेटी मीसा भारती के घर में रहेंगे RJD सुप्रीमो

कोरोना संकट के बीच श्रेयसी सिंह पहुंचीं जमुई सदर अस्पताल, कोविड वार्ड जाकर जाना मरीजों का हाल



Source by [author_name]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here