IAS Success Story: लाखों की नौकरी छोड़कर आईएएस बनने की ठानी, इस रणनीति से अभिषेक ने अपना सपना किया पूरा


Success Story Of IAS Topper Abhishek Surana: राजस्थान के भीलवाड़ा के रहने वाले अभिषेक सुराना का यूपीएससी परीक्षा का सफर अन्य कैंडिडेट्स के लिये काफी प्रेरणादायक है. उनका एजुकेशनल बैकग्राउंड काफी अच्छा रहा. वह शुरुआत से ही पढ़ाई में काफी अच्छे स्टूडेंट्स रहे हैं. अभिषेक ने चौथे प्रयास में सफलता हासिल की और दसवीं रैंक के साथ परीक्षा में टॉप किया. हालांकि इससे पहले भी उनका चयन हो गया था. उनकी रैंक उस वक्त 250 आई, जिससे उन्हें आईएएस सेवा मिली. हालांकि इसके बाद भी उन्होंने परीक्षा की तैयारी जारी रखी. लेकिन उन्होंने आईपीएस सेवा चुन ली, जिसमें ट्रेनिंग जारी रखी और फिर अगला अटेम्पट दिया. इस बार उन्हें अपनी मन पंसद की सेवा मिली और इस तरह उन्होंने अपने आईएएस ऑफिसर बनने का सपना साकार किया. 

आईआईटी ग्रेजुएट हैं अभिषेक
अभिषेक ने शुरुआती शिक्षा राजस्थान के भीलवाड़ा से पूरी की. इसके बाद उन्होंने दिल्ली आईआईटी से इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में ग्रेजुएशन पूरा किया. आईआईटी ग्रेजुएट्स पूरी होते ही उनकी विदेश में एक अच्छी हाईपेइंग जॉब लग गई. उन्होंने इसके बाद डेढ़ साल नौकरी की. अभिषेक को कुछ वक्त बाद अहसास हुआ कि यह फील्ड वह नहीं है जिसमें उनका लंबे वक्त तक मन लगे.

इसके बाद उन्होंने नौकरी छोड़ दी और दूसरी विदेशी धरती पर बिजनेस डाला. जिसकी फंडिग सरकार द्वारा हुई थी. कुछ साल काम करने के बाद उनके मन में देश में आकर जमीनी स्तर पर कुछ करने की प्रबल इच्छा जागृत हुई. जिसके बाद उन्होंने बिजनेस छोड़ दिया. सिविल सेवा की तैयारी करने का फैसला किया. इस दौरान उन्हें अपने परिवार का पूरा सपोर्ट मिला.

प्री के लिए टेम्परामेंट है बहुत जरूरी 
अभिषेक ने चार बार प्री दिया और चारों बार वह सेलेक्ट हुए. वह कहते हैं कि प्री परीक्षा को पास करने के लिये टेम्परामेंट का बेहद अहम रोल है. वह आगे कहते हैं कि परीक्षा के पहले खूब मॉक टेस्ट देने चाहिए. प्री के पहले 15 से 20 मॉक टेस्ट जरूर देने चाहिए. परीक्षा जैसे माहौल में परीक्षा दें और उसी टाइम के अंतर पेपर खत्म करें. बेसिक्स और छोटी-छोटी चीजें क्लियर जरूर करें.

यहां देखें अभिषेक का दिल्ली नॉलेज ट्रैक को दिया गया इंटरव्यू

अभिषेक की अन्य कैंडिडेट्स को सलाह
अभिषेक कहते हैं लिमिटेड किताबें रखें और उनका बार-बार रिवीजन करें. साथ ही नोट्स बनाते चलें. ये परीक्षा की तैयारी में बेहद मदद करते हैं. नोट्स आप ऑनलाइन या ऑफलाइन दोनों तरह से बना सकते हैं. आंसर राइटिंग का अभ्यास बेहद जरूरी है. अभिषेक एथिक्स के पेपर की तैयारी के लिए क्लास ज्वॉइन करने की सलाह देते हैं. साक्षात्कार के दौरान ब्लफ न करें.

यह भी पढ़ेंः IAS Success Story: छोटे से गांव से निकलकर IAS ऑफिसर तक का सफर, जानें आशुतोष को कैसे मिली सफलता

Education Loan Information:
Calculate Education Loan EMI



Source by [author_name]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *