WB Board Exam 2021: पश्चिम बंगाल बोर्ड की 10वीं और 12वीं परीक्षा को लेकर एक्सपर्ट पैनल ने जनता से मांगे सुझाव


सीबीएसई की परीक्षा रद्द किए जाने के बाद कई राज्यों ने भी अपनी बोर्ड परीक्षाएं कैंसल कर दी हैं. वहीं पश्चिम बंगाल में अभी तक बोर्ड परीक्षा को लेकर कोई अंतिम फैसला नहीं लिया गया है. हालांकि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने शनिवार (6 जून) को घोषणा की थी कि राज्य सरकार ने पश्चिम बंगाल बोर्ड परीक्षा 2021 के लिए एक एक्सपर्ट पैनल गठित किया है. समिति सिफारिश करेगी कि माध्यमिक और उच्च माध्यमिक कक्षाओं के लिए राज्य बोर्ड परीक्षा आयोजित की जाए या नहीं. पैनल ने रविवार को ईमेल आईडी जारी कर जनता से बोर्ड परीक्षा को लेकर सुझाव भी मांगे. 

पैनल ने ईमेल आईडी शेयर कर जनता से मांगी राय
बता दें कि कोविड-19 महामारी के बीच बोर्ड परीक्षा आयोजित करने की फीजिबिलिटी की जांच के लिए विशेषज्ञ पैनल बनाने के तीन दिन बाद पश्चिम बंगाल स्कूल शिक्षा विभाग ने रविवार को ईमेल आईडी शेयर कर 24 घंटे के भीतर इस मामले पर जनता की राय मांगी.

स्कूल शिक्षा विभाग ने रविवार जारी किया एक नोटिस
स्कूल शिक्षा विभाग ने रविवार को जारी एक नोटिस में कहा, “माध्यमिक / उच्च माध्यमिक परीक्षा 2021 आयोजित की जाए या नहीं, इस पर जनता के विचार मांगे जा रहे हैं. विभाग ने लोगों से कहा है कि अगर वे परीक्षा आयोजित कराने के पक्ष में हैं तो उसे कराने के तौर-तरीकों के लेकर राय दें.” विभाग ने असेसमेंट के संभावित क्राइटेरिया के बारे में भी राय मांगी है.

सीएम ने ट्वीट कर जनता से किया अनुरोध
वहीं सीएम ममता बनर्जी ने रविवार को ट्वीट किया, हम अभिभावकों, आमजनों, शिक्षा क्षेत्र के एक्सपर्ट्स, सिविल सोसाइटी के लोगों से सुझाव मांगे हैं. मेरा आपसे अनुरोध है कि आप 7 जून 2021 दोपहर दो बजे तक अपने विचार शेयर करें.”

पैनल राज्य सरकार को सौंप चुका है अपनी रिपोर्ट
गौरतलब है कि 6 सदस्यीय एक्सपर्ट समिति, जिसमें माध्यमिक बोर्ड के प्रमुख, राज्य बाल अधिकार संरक्षण पैन के प्रमुख, एक डॉक्टर और शिक्षाविद शामिल हैं. इस कमेटी ने शनिवार को अपनी रिपोर्ट पहले ही सरकार को सौंप दी है हालांकि इसकी सिफारिशों को सार्वजनिक नहीं किया गया है. हालांकि, पैनल के एक सदस्य ने पीटीआई को बताया कि वह और अन्य ने सर्वसम्मति से सहमति व्यक्त की है कि वर्तमान परिस्थितियों में कक्षा 10 और कक्षा 12 के छात्रों के लिए ऑफ़लाइन परीक्षा आयोजित करना सही नहीं है. वहीं स्टूडेंट्स के लिए ओपन बुक परीक्षा ज्यादा सही रहेगी या ऑनलाइन परीक्षा, इसे लेकर मतभेद भी थे.

बता दें कि इस साल 12 लाख से अधिक छात्र माध्यमिक और 8.5 लाख उच्च माध्यमिक परीक्षाओं में शामिल होंगे. वहीं सीबीएसई और सीआईएससीई ने हाल ही में महामारी के मद्देनजर 12 वीं बोर्ड परीक्षाओं को रद्द कर दिया है. 

ये भी पढ़ें

ICAI CA Exam 2021: सीए एग्जाम का रिवाइज्ड शेड्यूल जारी, जानें कब है फाउंडेशन, इंटरमीडिएट और फाइनल परीक्षा

JKSSB Recruitment 2021: जेएंडके सर्विस सेलेक्शन बोर्ड ने निकाली बंपर भर्तियां, जानें कैसे करें आवेदन

Education Loan Information:
Calculate Education Loan EMI



Source by [author_name]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *